मंगलवार, 23 फ़रवरी 2010

अपने अनुप्रयोग को Profile करना – कोड इग्नाइटर

Profiler Class आपके पेज के नीचे बेंचमार्क परिणाम, क्वेरी जो आप चला रहे हैं तथा $_POST डाटा को दिखाती है. यह जानकारी डेवलपमेंट के दौरान काफ़ी उपयोगी होती है. क्योंकि यह अनुप्रयोग डिबग और सुधारने के काम आ सकती है.

किसी क्लास को आरंभ करना

महत्वपूर्ण:  इस क्लास को आरंभ करने की जरूरत नही है. जैसा कि नीचे दिया गया है यदि Profiling को सक्षम किया गया है तो यह Output Class के द्वारा स्वत: ही लोड हो जाती है.

Profiler को सक्षम करना

प्रोफ़ाइलर को सक्षम करने के लिये निम्न लिखित फ़ंग्शन को अपने कंट्रोलर फ़ंग्शन में कहीं भी रख दीजिये.

$this->output->enable_profiler(TRUE);

जब यह सक्षम होगा तब आपके पेजो के नीचे एक रिपोर्ट बनेगी.

प्रोफ़ाइलर को अक्षम करने के लिये आपको यह उपयोग करना पड़ेगा:

$this->output->enable_profiler(FALSE);

Benchmark के बिंदु तय करना

प्रोफ़ाइलर आपके बेंचमार्क डाटा को कंपाइल तथा दिखा सके इसके लिये आपको अपने मार्क प्वाइंटों को नाम देना होगा. बेंचमार्क प्वाइंटों को निर्धारित करने से संबंधित जानकारी Benchmark Class पेज में दी गई है.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लाग में प्रकाशित सामग्री कापीराईट द्वारा सुरक्षित है. बिना अनुमति इसका किसी भी प्रकार से अन्यत्र प्रयोग/प्रकाशन मूल रूप में/बदल कर उपयोग नही किया जा सकता है.

हिंदी में तकनीकी लेखन को प्रोत्साहित करें

please donate अभी तक वेब डेवलपमेंट अथवा प्रोग्रामिंग आदि से संबंधित जानकारी पर अंग्रेजी का एकाधिकार रहा है. भारत में इतने आई टी गुरू होने के बावजूद भारतीय भाषाओं में इस विषय पर लेखन नगण्य है. इस ब्लाग के माध्यम से मैं हिन्दी भाषिओं तक वेब डेवलपमेंट का ज्ञान पहुंचाने की कोशिश कर रहा हूं. अत: आप सभी से अनुरोध है कि हिंदी में तकनीकी लेखन के लिये सहयोग करें
मैं वेबसाइटें भी बनाता हूं. यदि आपको बनवानी हो तो बताएं.

ARCHIVES

इस ब्लॉग में खोजें

समर्थक